Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • शार्दुल ने भारतीय बल्लेबाजों का बचाव किया , शुरुआत में स्विंग के कारण नाकाम रहे

    ओवल (ईएमएस)। शार्दुल ठाकुर की शानदार बल्लेबाजी से भारतीय टीम मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ चौथे क्रिकेट टेस्ट मैच के पहले दिन अपनी पहली पारी में 191 रन बनाने में सफल रही। शार्दुल ने 36 गेंद पर 57 रन बनाए। इसके अलावा कप्तान विराट कोहली ने भी अर्धशतक लगाते हुए 50 रन बनाये। वहीं अन्य भारतीय बल्लेबाजों ने निराश किया। इसके बाद मेजबान टीम ने पहले दिन का खेल खत्म होने पर अपनी पहली पारी में 3 विकेट पर 53 रन बना लिए थे। शार्दुल ने पहले दिन का खेल समाप्त होने पर टीम के बल्लेबाजों का बचाव करते हुए कहा है कि मैच अभी बराबरी पर है। मेजबान टीम के कप्तान जो रूट पेवेलियन लौट गये हैं। शार्दुल ने कहा कि शुरुआत में गेंद स्विंग हो रही थी। इसी कारण हमारे बल्लेबाज विफल रहे। वहीं जब हमें बल्लेबाजी का अवसर मिला तब तक गेंद कम स्विंग हो रही थी जिससे हमें खेलने में आसानी हुई। उन्होंने कहा, ‘हम बड़ा स्कोर नहीं बना सके पर इंग्लैंड के भी शुरुआती तीन विकेट जल्दी गिर गए हैं। रूट का विकेट हमें मिल गिया है। इस तरह से हम अभी भी मैच में बने हुए हैं। हमारे पास अब भी इंग्लैंड को कम स्कोर पर आउट करने का मौका है।’

    इस मैच में पांचवें नंबर पर खेलते हुए ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा केवल 10 जबकि विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत 9 रन ही बना पाये। इसपर शार्दुल ने कहा कि ये दोनो ही मैच विजेता खिलाड़ी हैं। जडेजा ने पहले और दूसरे टेस्ट में अहम पारियां खेलीं। बाएं और दाएं हाथ के संयोजन को देखते हुए जडेजा को नंबर-5 पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया था। वहीं अपनी बल्लेबाजी को लेकर शार्दुल ने कहा कि स्विंग पिचों पर सीधे बल्ले से खेलना अहम होता है। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि सीधे बल्ले से खेलना लाभकारी रहा क्योंकि इससे आपको अधिक रन मिलते हैं। इंग्लैंड में गेंद बहुत स्विंग होती है. हाल के दिनों में मेरी बल्लेबाजी भी बेहतर हुई है। मैंने बल्लेबाजी कोच और विशेषज्ञ के साथ इस पर बात की और उन्होंने यह भी सुझाव दिया है कि जब भी अवसर मिले मैं सीधे बल्ले से खेलूं। इसका लाभी भी मुझे मिला है। ’

    10x4 JP Ad Peptech Time

  • जन संपर्क न्यूज़

    गैस राहत चिकित्सालयों में प्रतिनियुक्ति पर ली जायेंगी चिकित्सा अधिकारियों की सेवाएँ

    गैस राहत चिकित्सालयों के लिये विशेषज्ञों, कंसलटेंट और चिकित्सा अधिकारियों की सेवाएँ प्रतिनियुक्ति पर ली जायेंगी। संचालक गैस राहत एवं…

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist