Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • विदेशी मेहमानों से गुलजार प्रयागराज संगम तट

    विदेशी मेहमानों से गुलजार प्रयागराज संगम तट

    सतना। प्रति वर्ष सर्दियों का मौसम शुरू होते ही सात समन्दर पार कर साइबेरियन पक्षियों के समूह संगम तट पर पहुंच जाते हैं। संगम तट पर हजारों विदेशी मेहमानों के आने से जहां संगम के प्राकृतिक सौन्दर्य में और भी निखार आ जाता है। वहीं, संगम में आने वाले श्रद्धालुओं के साथ ही देशी-विदेशी पर्यटक भी इन विदेशी मेहमानों के कलरव को देखकर आनन्द की अनुभूति करते हैं। संगम के तट पर हजारों की तादाद में साइबेरियन पक्षियों के पहुंचने से न केवल यहां की सुन्दरता में चार चांद लग जाते हैं, बल्कि पानी की सतह पर कलरव करते ये विदेशी मेहमान श्रद्धालुओं और पर्यटकों को भी अपनी ओर बरबस ही आकर्षित करते हैं। संगम तट एक बार फिर से इन विदेशी मेहमानों से गुलजार नजर आ रहा है, जिससे संगम आने वाले श्रद्धालु और पर्यटक जहां बेहद खुश नजर आ रहे हैं. यही नहीं यहां आने वाले श्रद्धालु और पर्यटक प्रकृति के इस अनुपम सौन्दर्य को अपने कैमरे में भी कैद करते हुए भी संगम तट पर नजर आते हैं. ये विदेशी मेहमान सर्दियों में दो रास्ते से भारत में आते हैं। अगर साइबेरिया से सीधे भारत आते हैं तो 4800 किलोमीटर दूरी तय कर यहां पहुंचते हैं. जबकि, झुंड में घूमते हुए 14620 किलोमीटर की लम्बी दूरी तय करके भी साइबेरिया से भारत आते हैं. साइबेरिया से यूरोप के विभिन्न देशों से होते हुए साइबेरियन पक्षियों का समूह अफगानिस्तान, मंगोलिया पहुंचता है. यहीं से ये दो हिस्सों में बंट जाते हैं. साइबेरियन पक्षियों का एक समूह जहां चीन चले जाते हैं। वहीं, दूसरे समूह तिब्बत के रास्ते भारत में प्रवेश कर जाते हैं। भारत में साइबेरियन पक्षी राजस्थान के भरतपुर पक्षी विहार, भीरपुर, नरायणपुर कलान, देहरांव और प्रयागराज के संगम तट पर डेरा जमाते हैं। साइबेरियन पक्षी पचास किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से कई पड़ावों पर ठहरते हुए संगम पहुंचते हैं। प्रति वर्ष सर्दियों में रुस के प्रान्त साइबेरिया में तापमान माइनस से 30 -40 डिग्री में पहुंच जाने पर ये विदेशी मेहमान हैबिटेट और ब्रीडिंग के लिए गर्म स्थानों की ओर रुख करते हैं. देश में साइबेरियन पक्षी अक्टूबर से मार्च तक का समय विभिन्न इलाकों में ब्यतीत करते हैं। संगम तट पर आने वाले पर्यटक श्रद्धालु को देखकर जहां रोमांचित हो रहे हैं, वहीं उनके साथ समय बिताकर उन्हें अच्छा भी लगता है। बहरहाल, हर साल संगम में आने वाले इन विदेशी मेहमानों का लोगों को भी बड़ी बेसब्री से इंतजार रहता है. इन विदेशी मेहमानों के यहां आने से यहां की सुंदरता में भी चार चांद लग जाते हैं।

  • जन संपर्क न्यूज़

    केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री शाह का ग्वालियर विमानतल पर मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने किया स्वागत

    केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह का ग्वालियर विमानतल पर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने आत्मीय स्वागत किया।…

    Stay Connected

    Shri Sai Lotus City, Satna (M.P.)

    Peptech Town, Chhatarpur (M.P.)​

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist