Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • हिमाचल प्रदेश में हो रही भारी बर्फबारी, लगभग सभी सड़कें बंद, ​जानिए कहां कैसे हैं हालात?

    हिमाचल प्रदेश में हो रही भारी बर्फबारी, लगभग सभी सड़कें बंद, ​जानिए कहां कैसे हैं हालात?

    शिमला, (ईएमएस)। हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी हुई है जिसके कारण सड़क पर भारी मात्रा में बर्फ जम गई और बिजली की आपूर्ति भी ठप्प हो गई है। कई जिलों के स्कूल और कालेज बंद कर दिए गए है। बीते 48 घंटे में बारिश और बर्फबारी से जनजीवन पर खासा असर हुआ है।

    शिमला में ठंड से एक नेपाली मूल के शख्स की मौत हुई है। वहीं, प्रदेश की सड़कें बड़े पैमाने पर ठप हैं। शुक्रवार को प्रदेश भर में धूप खिली है और हालात में सुधार के आसार हैं। लेकिन कल यानी तीन फरवरी के लिए फिर से येलो अलर्ट जारी किया गया है।

    जानकारी के अनुसार, बारिश और बर्फबारी से प्रदेश में 4 नेशनल हाईवे (एनएच) समेत 411 सड़कों पर आवाजाही ठप हो गई है। वहीं, भुंतर, गगल और शिमला से उड़ानें नहीं हुईं। 1506 ट्रांसफार्मर बंद हो गए हैं और मनाली और चंबा में कई इलाकों में ब्लैकआउट है। हिमाचल में सबसे अधिक सड़कें लाहौल-स्पीति में बंद हैं और लेह मनाली हाईवे बंद होने से लाहौल स्पीति देश और दुनिया से कट गया है।

    अटल टनल रोहतांग में तीन फीट और मनाली में एक फीट से अधिक बर्फबारी दर्ज हुई है। शिमला में ऊपरी इलाकों के लिए जाने वाली सड़कें ठप्प है। रोहड़ू के चिंड़गांव में ढाई फीट बर्फ गिरी है। अहम बात है कि कुल्लू जिले में आज यानी दो फरवरी के लिए स्कूल-कॉलेज और शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टी रहेगी।हिमपात के चलते डीसी जिला लाहौल स्पीति राहुल कुमार ने उपमंडल केंलाग तथा उदयपुर के सभी शैक्षणिक संस्थानों, स्कूल-कॉलेज-आईटीआई को 2 से 3 फरवरी 2024 तक बंद रखने का आदेश जारी किया है। हिमस्खलन का भी खतरा बना हुआ है।

    डीसी ने कहा कि किसी भी आपातकालीन से संबंधित सूचना जिला पुलिस नियंत्रण कक्ष दूरभाष के माध्यम से 89880 92298 मैं संपर्क कर सकते हैं। गुरुवार को शिमला में सीजन का पहला हिमपात हुआ है। रिज और मालरोड पर बर्फ गिरी तो सैलानी झूम उठे। चंबा के खज्जियार में सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। चंबा में जनजातीय क्षेत्र पांगी भारी हिमपात हुआ और अन्य भागों से संपर्क कट गया है।

    अधिकांश पंचायतों में बिलजी आपूर्ति ठप है। मंडी जिले में बर्फबारी और बारिश से चौहारघाटी, सराज और नाचन क्षेत्रों का संपर्क जिला मुख्यालय से कट गया है। परासर में दो फीट, शिकारी देवी में चार फीट और कमरुघाटी में तीन फीट बर्फबारी हुई है।मनाली में हालात ज्यादा खराब है। शुक्रवार को धूप तो खिली है, लेकिन 24 घंटे से ब्लैकऑउट है।

    यहां पर लेह मनाली हाईवे ठप है। ग्रामीणों इलाकों में बिजली पानी ठप है। यहां पर सीजन का पहला हिमपात हुआ है। सैलानियों को आवाजाही के लिए परेशानी हो रही है। कुल्लू के कसोल में भी बर्फबाही हुई है। बर्फबारी से मनाली-लेह और कुल्लू-मनाली हाईवे तीन के साथ औट-बंजार-सैंज हाईवे 305 पर बस सेवा बंद हो गई है।

    आपातकालीन स्थिति में कुल्लू पुलिस के हेल्पलाइन नंबर 8219681600 पर संपर्क कर सकते हैं। मंडी जिले में पराशर, कमरूनाग और सराज वैली में बर्फबारी हुई है। मंडी शहर में थनैड़ा मौहल्ला में विश्वकर्मा मंदिर के सामने से लैंडस्लाइड भी शुक्रवार को हुआ है। यहां पर बरसात सीजन में बड़ा लैंडस्लाइड हुआ था। लेकिन गुरुवार को लगातार यहां पर पत्थर गिरते रहे। हिमाचल में बर्फबारी के बाद अब पांच जिलों में हिमस्खलन का अलर्ट है। चंबा, शिमला, कुल्लू, लाहौल स्पीति और किन्नौर में बर्फबारी के बाद एवलांच का खतरा बढ़ा है।

  • जन संपर्क न्यूज़

    गैस राहत चिकित्सालयों में प्रतिनियुक्ति पर ली जायेंगी चिकित्सा अधिकारियों की सेवाएँ

    गैस राहत चिकित्सालयों के लिये विशेषज्ञों, कंसलटेंट और चिकित्सा अधिकारियों की सेवाएँ प्रतिनियुक्ति पर ली जायेंगी। संचालक गैस राहत एवं…

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist