Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • नाबालिग को बंधक बनाकर गलत काम करने के लिए विवश करने वाली महिला गिरफ्तार

    नाबालिग को बंधक बनाकर गलत काम करने के लिए विवश करने वाली महिला गिरफ्तार

    छतरपुर। शहर में देह व्यापार संचालित करने वाली एक महिला ने नाबालिग लड़की को स्कूटी दिलाने का प्रलोभन दिलाकर अपने पास बुलाया और इसके बाद बंधक बनाकर उसे गलत काम करने के लिए विवश किया। यह मामला उस वक्त सामने आया जब पीडि़त लड़की के पैर में गोली लगने के कारण उसे जिला अस्पताल लाया गया था। पुलिस ने जब लड़की से पूछताछ की तो उसने पूरी आपबीती पुलिस को बताई, जिसके बाद महिला सहित उसके तीन अन्य पुरुष साथियों के ऊपर गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया। पुरुष अपराधियों को पुलिस पूर्व में गिरफ्तार कर चुकी है लेकिन मुख्य आरोपी महिला फरार चल रही थी। बीते रोज महिला थाना पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया है। महिला के ऊपर अनैतिक देह व्यापार के आधा दर्जन से अधिक मामले पहले से दर्ज हैं। सोमवार को पुलिस अधीक्षक ने पुलिस कंट्रोल रूप में मामले का खुलासा किया।
    पुलिस अधीक्षक अगम जैन ने बताया कि 18 मार्च 2024 की रात को कोतवाली थाना क्षेत्र में नाबालिग लड़की के पैर में गोली लगने की घटना सामने आई थी। जिला अस्पताल में जब पुलिस ने बालिका से पूछताछ की तो उसने बताया कि बड़ामलहरा क्षेत्र के शातिर अपराधी मंजू पटैरिया द्वारा उसे गोली मारी गई है। नाबालिग बालिका को उपचार के बाद विधिवत वन स्टाप सेंटर छतरपुर ले जाया गया, जहां काउंसलिंग के दौरान नाबालिग बालिका ने बताया कि वह मूलत: उत्तरप्रदेश के एक शहर की रहने वाली है। छतरपुर निवासी संतोषी तिवारी नामक महिला से उसका परिचय था, जिसने उसे स्कूटी दिलाने का प्रलोभन देकर छतरपुर बुलाया था। छतरपुर आने के बाद संतोषी तिवारी ने अपने साथी हरि सिंह, रक्कू उर्फ राकेश गोस्वामी और मंजू पटैरिया की मदद से उसे बंधक बना लिया और गलत काम करने के लिए विवश किया गया। 18 मार्च को किसी बात को लेकर मंजू पटैरिया ने उसके ऊपर गोली चला दी थी, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल लाया गया था। लड़की के कथन लेने के बाद महिला थाना में सभी आरोपियों के विरुद्ध भारतीय दंड विधान एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की विभिन्न धाराओं में अपराध पंजीबद्ध किया गया, साथ ही आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु 10 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया। एसपी श्री जैन ने बताया कि मामले की मुख्य आरोपी संतोषी तिवारी पर थाना कोतवाली में 7 अपराध सहित उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलों में अनैतिक देह व्यापार सहित अन्य अपराधों के मामले पंजीबद्ध हैं। जबकि जिले के अलग-अलग थानों में उसके साथी हरि सिंह पर 4, रक्कू उर्फ राकेश गोस्वामी पर 6 और मंजू पटैरिया पर 40 अपराध पंजीबद्ध हैं। मामले के पुरुष अपराधी हरि सिंह, रक्कू उर्फ राकेश तथा मंजू पटैरिया को पुलिस पूर्व में गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। मुख्य आरोपी संतोषी तिवारी की तलाश पुलिस द्वारा लगातार की जा रही थी। बीते रोज महिला थाना प्रभारी निरीक्षक माधवी अग्निहोत्री ने अपनी टीम के साथ उसे गिरफ्तार किया। संतोषी तिवारी के द्वारा उक्त कुकृत्य करना स्वीकार किया गया है। सोमवार को न्यायालय में पेश करने के बाद उसे जेल भेज दिया गया है। कार्यवाही में कोतवाली थाना प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुजूर, महिला थाना थाना प्रभारी निरीक्षक माधवी अग्निहोत्री के अलावा साइबर सेल के प्रभारी संदीप खरे, थाना कोतवाली आौर महिला थाना टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

  • जन संपर्क न्यूज़

    मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विश्व पैरा-एथलेटिक्स चैंपियनशिप के पदक विजेता भारतीय खिलाड़ियों को दी बधाई

    मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने जापान में आयोजित विश्व पैरा-एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारतीय खिलाड़ियों द्वारा अभूतपूर्व प्रदर्शन कर 17 पदक…

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist