Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • मोदी ने किया अध्यात्म का अनुभव का लोकार्पण

    मोदी ने किया अध्यात्म का अनुभव का लोकार्पण

    सतना। मध्यप्रदेश के सतना जिले को आज 150 करोड़ रुपए से अधिक के विकास कार्यों की सौगात मिली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जहां स्वदेश दर्शन योजना के अंतर्गत 26 करोड़ की लागत से चित्रकूट घाट पर अध्यात्म का अनुभव परियोजना का उद्घाटन किया। वहीं मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव जिले में 139 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। ये पर्यटन विभाग के प्रोजेक्ट स्वदेश दर्शन योजना 2.0 के तहत मंदाकिनी के घाटों के जीर्णोद्धार और उन्नयन कार्य के लिए हैं। इस दौरान सीएम यादव ने लोगों का संबोधन किया। यहां सीएम ने जय श्री राम के नारे लगवाकर अपना संबोधन शुरू किया। उन्होंने कहा कि ये सुखद सयोंग है, कि श्री नगर में कार्यक्रम के चलते-चलते पीएम मोदी ने इस कार्यक्रम के लिए समय निकला। जो श्री नगर नाम का था, जहां श्री का तेज मध्यम पड़ गया था। उस श्री नगर के नाम को 370 हटाकर सार्थक किया है पीएम नरेंद्र मोदी ने। और ये भी श्री नगर है चित्रकूट यहां प्रभू राम के रूप में आए थे। जिन प्रभू राम के नाम से काम सफल हो जाता है उन संबंध चित्रकूट से है, श्री तो इसके नाम में लगना चाहिए। सीएम ने कहा कि हम भगवान के मामले में कॉम्प्रोमाइज नहीं करेंगे। जहां-जहां मप्र की धरती भगवान श्री राम, भगवान कृष्ण के चरण पड़े हैं उस प्रत्येक स्थान को तीर्थ बनाकर छोड़ेंगे। जिसको जो सोचना है सोचे जो कहना है कहे। लेकिन भगवान राम और कृष्ण को हम संस्कृति से हटा दे ऐसे हो सकता है क्या। आज तो मोदी जी का जमाना है अयोध्या से लेकर अरब तक मंदिर बना है। उन्होंने कहा कि 20 साल पहले शंकराचार्य को अरब की धरती पर उस वेशभूषा उतरने नहीं दिया था। सबने कहा की इन हिंदू प्रतीक चिन्हों को धारण कर आप नहीं चल सकते। वो दौरा कांग्रेस सरकार का था। तब हमारे शंकराचार्य और हिंदू संस्कृति का अपमान हुआ। फिर वहां पीएम मोदी गए उन्होंने अपने हिसाब से शासन को चलाते हुए पूरी दुनिया में भारत का मान बढ़ाया सम्मान बढ़ाया। फिर पीएम नरेंद्र मोदी से अरब के शेख ने कहा जितनी चाहो जमीन लो और मंदिर बनाओ। ये हमे नरेंद्र मोदी और बीजेपी सरकार से माध्यम से मिला। इस दौरान सीएम ने चित्रकूट में अलग एसडीएम कार्यालय बनाने की घोषणा की।

  • जन संपर्क न्यूज़

    जल स्रोतों के संरक्षण एवं पुनर्जीवन के लिये सभी नगरीय निकायों में 5 से 15 जून तक चलेगा विशेष अभियान

    मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की पहल पर प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में जल स्रोतों तथा नदी, तालाबों, कुओं, बावड़ियों…

    मतगणना की व्यवस्थाओं का समुचित प्रबंधन कर लें- मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री कुमार

    मुख्य निर्वाचन आयुक्त, भारत निर्वाचन आयोग श्री राजीव कुमार ने सोमवार 27 मई को लोकसभा निर्वाचन-2024 की मतगणना की तैयारियों…

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist