Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • गरीब, बेसहारा बेटियों का विवाह सरकार कराएगी: डॉ मोहन यादव

    गरीब, बेसहारा बेटियों का विवाह सरकार कराएगी: डॉ मोहन यादव

    छतरपुर। ऋषियों की पुण्य भूमि बागेश्वर धाम में पंचम बुंदेलखंड माह महोत्सव के पावन अवसर पर 157 बेटियों को अपने सूत्र में बांधने की बेला आई। कई महीने से लगातार तैयारी चल रही थी। आयोजन में मुख्य अतिथि के रुप में प्रदेश के मुखिया डॉ मोहन यादव शामिल हुए। उन्होंने श्री को प्रणाम करते हुए कहा कि जिन बेटियों के विवाह यहां से हुये है उनको बहुत शुभकामनाएं और जो बेटियां कि भी कारणों से फारिग हमें पधारे से वंचित रह गई है उन्हें अक्षय तृतिया, देवस्थान एकादशी के अवसर पर परिणय सूत्र में बाधा जाएगा। विवाह की सारी व्यवस्था सरकार की ओर से होगी। डॉक्टर यादव ने कहा सामाजिक कष्ट के मौके पर सरकार मदद करेगी। उन्होंने कहा कि महाराज श्री देव पुरुष है क्योंकि देव पुरुष ही ऐसे कार्य कर सकते हैं। जिनका खुद का ठिकाना नहीं है वह सबको ठिकाने पहुंचा रहे हैं। मेरा जीवन धन्य हो गया। आज महाराज श्री की कृपा से पूरा धाम जगमगा रहा है। संत सूर्य के समान प्रकाश फैलाते हैं। सनातन संस्कृति संतो के माध्यम से ही जीवन पाती है।
    राजनेताओं ने भी दी शुभकामनाएं
    भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष एवं खजुराहो सांसद बी डी शर्मा ने कहा कि उनका जीवन खुश में है आज बेटियों के विवाह को देखकर मन बड़ा प्रसन्न है। इससे बड़ा पूण्य का कार्य कोई नहीं होता। चूंकि वे इस क्षेत्र के सांसद है इसलिए वे इस क्षेत्र को ऐतिहासिक बनाने का कार्य करेंगे। बुंदेलखंड गरीब नहीं यह समृद्धशाली है। वही उपर मुख्य मंत्री राजेंद्र शुक्ला ने कहा कि सनातन को फिर से जग जन तक पहुंचाने काम बागेश्वर महाराज कर रहे हैं महाराज की सरलता,सौम्यता से लोग सीख लें। आज का दृश्य अद्भुत है। प्रदेश के मंत्री धर्मेंद्र लोधी,गोविंद सिंह राजपूत, विजय शाह,राकेश सिंह ले भी अपने उद्बोधन के माध्यम से सभी बेटियों को शुभ आशीष दिए।
    फिल्म जगत के लोगों ने भी बेटियों को दी आशीर्वाद
    बागेश्वर धाम की कीर्ति देश विदेश में फैली है। हर कोई यहां आकर बालाजी सरकार के चरणों में प्रणाम करना चाहता है। 27 फरवरी से शुरु हुए महाकुंभ में अब तक तमाम लोग शामिल हुए। देश के चोटी के गायकों ने बागेश्वर धाम के सांस्कृतिक मंच से अपनी प्रस्तुतियां दी। विवाह के अवसर पर फिल्मी गायक सोनू निगम ने भजन प्रस्तुत किया। बागेश्वर बगिया के एक अन्य पुष्प गोविंद नामदेव ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। वही विवाह महोत्सव में हरियाणा के प्रसिद्ध पहलवान द ग्रेट खली दे भी अपनी शुभकामनाएं दी।
    हेलीकॉप्टर से हुई पुष्प वर्षा
    बागेश्वर धाम में 157 कन्याओं को परिणय सूत्र में बाधा गया । इस अवसर पर हेलीकॉप्टर के माध्यम से पुष्प वर्षा की गई। सभी बेटियों और दामाद के ऊपर फूल बरसाते हुए बागेश्वर में आये लाखों भक्तों के ऊपर भी हेलीकॉप्टर के माध्यम से पुष्प बरसा की गई।
    नव दंपत्ति बागेश्वर की सेवा में आदर्श जीवन बनाएंगे:चिन्नाजीयम महराज
    हैदराबाद से आए रामानंद संप्रदाय के चिन्नाजियम स्वामी महाराज ने कहा कि यह आयोजन आदर्श आयोजन है। बागेश्वर की सेवा में दंपत्ति आदर्श जीवन बिताएगे। नवदंपत्ति संतति धर्म की रक्षा और देश की कक्षा में खड़े करेंगे। धर्म बोलने का नहीं करने का काम है। धर्म और राज के मिलन से परमार्थ के कार्य होते हैं। स्वतंत्रता से मठ मन्दिर के कार्य करने पर समाज व्यवस्थित हो सकेंगे।
    राजसत्ता जब धर्म सत्ता के साथ चलती है तो क्रांति आती है: बागेश्वर महाराज
    बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर पं धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने आशीर्वचन देते हुये कहा कि जब राजसत्ता और धर्म सत्ता के साथ चलते हैं तो देश मे क्रान्ति आती है। महाराज श्री ने कहा कि जब तक इस तन में प्राण है तब तक गरीबबेटियों के विवाह करते रहेंगे। बाला जी के चरणों में ऐसी प्रार्थना है कि देश के किसी भी क्षेत्र में यदि कोई गरीब बेटी है तो उसका विवाह बागेश्वर धाम से करने की सामर्थ दें। यहां से जिन बेटियों का विवाह हो उनमें इस बात का गुमान हो कि वे ऐसे धर्म पिता की बेटी है जो उन जैसे गरीबों की मदद के लिए आगे आते हैं। लाखों लोगों की उपस्थिति बताती है कि गरीब का भी कोई होता है। महाराज श्री ने मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव से कहा कि खजुराहो की खंडित मूर्तियों के स्थान पर नवीन मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा कराएं ताकि वहां पूजा शुरु हो सके।
    गौरी शंकर की उपासना से दांपत्य जीवन सुखमय होगा : मलूक पीठाधीश्वर महाराज
    बागेश्वर धाम पधारे मलूक पीठाधीश्वर द्वाराचार राजेंद्र दास महाराज ने अपने आशीर्वचन में कहा कि ज्ञान और निष्ठा के देवता बागेश्वर भगवान है। सनातन धर्म के सर्वांगीण उत्थान के लिए बागेश्वर भगवान ने महाराज जी का वरण किया है। संतों का यही काम है कि वे समाज को एकत्र करते हैं। विघटित समाज को संगठित करने का काम संत का है। सुखमय दाम्पत्य जीवन के लिए गौरीशंकर भगवान की उपासना करना चाहिए। बागेश्वर महाराज ने सनातन धर्म के ध्वज को पूरे विश्व में लहराया है।
    विदेशियों में दिखी सनातन के प्रति प्रेम और समर्पण की भावना
    केवल भारत नहीं बल्कि दुनिया के तमाम देशों में सनातन का झंडा लहरा रहा है। कार्यक्रम में शामिल होने आए जर्मनी के केंसर रोग विशेषज्ञ डॉ एंजेल कहा कि मैंने यहां आकर चमत्कार देखा है, यहां का प्रकाश अद्भुत है, लाखों लोग यहां रोते आते हैं और उनके चेहरे पर यहां से मुस्कान मिलती है। महाराज जी बड़े साधक है। मैं बड़ा सौभाग्य शाली हूं कि मुझे यहां आने का अवसर मिला। उन्होंने कहा कि 2026 में वे रिटायर हो रहे हैं और इसके बाद बागेश्वर धाम ही उनका घर होगा। स्विट्जऱलैंड से आए मेरिस भी अपने उद्धार व्यस्त किये। उन्होंने ने कहा कि वह हर बार यहां आकर कुछ अलग देखते हैं। महाराज की दयालुता देखते ही बनती है। यहां आने से उनके जीवन में बहुत बदलाव हुआ है।

  • जन संपर्क न्यूज़

    मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विश्व पैरा-एथलेटिक्स चैंपियनशिप के पदक विजेता भारतीय खिलाड़ियों को दी बधाई

    मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने जापान में आयोजित विश्व पैरा-एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारतीय खिलाड़ियों द्वारा अभूतपूर्व प्रदर्शन कर 17 पदक…

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist