Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • टॉस हारने के बाद हम साउथ अफ्रीका को 400 से नीचे रोकना चाहते थे: अर्शदीप सिंह

    टॉस हारने के बाद हम साउथ अफ्रीका को 400 से नीचे रोकना चाहते थे: अर्शदीप सिंह

    स्पोर्ट डेस्क। अर्शदीप सिंह ने कहा, पहले वनडे में टॉस हारने के बाद हम साउथ अफ्रीका को 400 से नीचे रोकना चाहते थे। अर्शदीप सिंह साउथ अफ्रीका में प्रोटियाज के खिलाफ वनडे में पंजा खोलने वाले दुनिया के पहले गेंदबाज बन गए। अर्शदीप सिंह ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले वनडे में 10 ओवर में 37 रन देकर 5 विकेट हासिल किए।

    अर्शदीप सिंह ने भी अपने इंटरनेशनल करियर में पहली दफा 5 विकेट चटकाए। जोहानिसबर्ग के न्यू वांडरर्स स्टेडियम में साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया था। अर्शदीप सिंह ने दूसरे ओवर की चौथी गेंद आउटसाइड ऑफ स्टंप धीमी गति के साथ फुलर लेंथ डिलीवरी डाली। रीजा हेंड्रिक्स ने बगैर पैरों के मूवमेंट के खड़े-खड़े बड़ा शॉट खेलने का प्रयास किया।

    गेंद टप्पा खाने के बाद हल्का अंदर की तरफ आई, हेंड्रिक्स के बल्ले का किनारा लेकर विकेट से जा लगी। दरअसल रीजा हेंड्रिक्स का अपने शॉट पर कोई कंट्रोल ही नहीं था। रीजा हेंड्रिक्स 8 गेंद खेलकर बगैर खाता खोले पवेलियन लौट गए। साउथ अफ्रीका को 3 पर पहला झटका लगा।

    नए बल्लेबाज रासी वान डर डसन को पहले ही गेंद पर LBW कर अर्शदीप ने सनसनी मचा दी। अर्शदीप ने फुलर लेंथ डिलीवरी डाली थी, जो टप्पा खाने के बाद स्विंग करती हुई अंदर की तरफ आ रही थी। रासी वान डर डसन ने फ्लिक करने का प्रयास किया, मिस कर गए। रिव्यू भी उन्हें गोल्डन डक से बचा नहीं सका। साउथ अफ्रीका का स्कोर 1.5 ओवर में 3/2 हो गया।

    टोनी डी जोरजी साउथ अफ्रीका के लिए आक्रामक बल्लेबाजी कर रहे थे। उन्होंने आठवें ओवर की पहली शॉर्ट बॉल पर अर्शदीप को स्क्वायर लेग की दिशा में छक्का भी जड़ा था। अर्शदीप ने टोनी डी जोरजी के सामने पांचवीं गेंद फिर एक बार आउटसाइड ऑफ स्टंप शॉर्ट बॉल रखी। पुल शॉट खेलने के प्रयास में टॉप एज विकेटकीपर केएल राहुल के हाथ चला गया। टोनी डी जोरजी 22 गेंद पर 28 बनाकर पवेलियन लौट गए। प्रोटियाज का स्कोर 7.5 ओवर में 42 पर 3 आउट हो गया। अर्शदीप सिंह इतने भर में नहीं रुके।

    10वें ओवर की अंतिम गेंद पर अर्शदीप ने हेनरिक क्लासेन को भी बोल्ड मार दिया। शॉर्ट ऑफ लेंथ डिलीवरी को क्लासेस ने बैकफुट पर खड़े होकर डिफेंड करने का प्रयास किया। गेंद को अंदर की तरफ हल्का सा मूवमेंट मिला और बल्लेबाज शॉट खेलने में लेट हो गए। गेंद लेग स्टंप की बेल पर लगी और हेनरिक क्लासेन 6 रन बना सके। पावरप्ले के दौरान अर्शदीप ने चौथी सफलता हासिल कर ली। पावरप्ले के बाद साउथ अफ्रीका का स्कोर 4 विकेट के नुकसान पर 52 रन था।

    फेहलुकवायो लड़खड़ाती साउथ अफ्रीका के लिए बड़े शॉट्स खेल रहे थे। अर्शदीप के 26वें ओवर की पहली फुलर लेंथ गेंद उनके फ्रंट पैड पर लगी। रिव्यू में नजर आया, गेंद मिडिल एंड लेग स्टंप से टकरा रही है। हॉक आई में 3 रेड जल गए। फेहलुकवायो 49 गेंद पर 3 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 33 बनाकर पवेलियन पहुंच गए। इसी के साथ अर्शदीप सिंह ने पंजा खोल दिया। भारत ने 200 गेंद बाकी रहते 2 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

  • Shri Sai Lotus City, Satna (M.P.)

    Peptech Town, Chhatarpur (M.P.)​

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist