Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • जलप्रपात में गिरे छात्र का शव न मिलने से नाराज परिजनों ने किया चक्का जाम

    सतना(अंबिका केशरी)। जलप्रपात में गिरकर डूबे छात्र का शव दूसरे दिन भी न निकाल पाने की प्रशासनिक अक्षमता को देखकर नाराज परिजनों सहित विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सतना चित्रकूट मार्ग की मिचकुरिन घाटी में चक्काजाम कर दिया गया। गौरतलब है कि चित्रकूट स्थित महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय में एमबीए कृषि संकाय के अंतिम सेमेस्टर में पढऩे वाला छात्र अंबुज बागरी बीते दिन शुक्रवार को अपना जन्मदिन मनाने अपने दोस्तों के साथ तुलसी-शबरी जलप्रपात गया हुआ था। जहां सेल्फी लेते समय क्रमश दो छात्र विकास शर्मा और अंबुज बागरी पैर फिसल जाने के चलते गहरे पानी में गिर गए थे।सहयोगियों और स्थानीय लोगों की मदद से विकास शर्मा को तत्काल उसी समय पानी से बाहर निकाल लिया गया था। लेकिन, अंबुज बागरी का कोई रता पता नहीं चल पाया था। बीते दिन शाम होने के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन भी बंद कर दिया गया था। शनिवार की सुबह पुन: मौके पर गोताखोरों को लेकर अधिकारी पहुंचे। लेकिन, गोताखोर शव निकालने के बजाय पेड़ के नीचे बैठकर आराम करने लगे। वही दूसरी तरफ विश्वविद्यालय के छात्र अधिकारियों के सामने हाथ जोड़कर शव निकालने की लगातार आरजू मिन्नते करते रहे।छात्रों का आरोप था कि जिन गोताखोरों को लाया गया है वो शराब पीकर पेड़ के नीचे आराम फरमा रहे हैं। इस पूरे घटनाक्रम से नाराज होकर छात्र अंबुज बागरी के परिजनों सहित विश्वविद्यालय के छात्रों और स्थानीय निवासियों द्वारा सतना चित्रकूट मार्ग की मिचकुरिन घाटी में चक्काजाम कर दिया गया।जिसके बाद मौके पर पहुंचे एसडीएम मझगंवा जितेंद्र वर्मा और थाना प्रभारी आदित्य सेन द्वारा लोगो समझाइस देते हुए शव को शीघ्र पानी से बाहर निकलवाने का वादा किया गया।जिसके बाद परिजनों और छात्रों द्वारा चक्काजाम समाप्त कर दिया गया। वहीं दूसरी तरफ तुलसी-शबरी प्रपात में छात्र अंबुज बागरी का शव अपने आप पानी के ऊपर दिखाई देने लगा।जिसके बाद गोतीखोरों द्वारा शव को पानी से बाहर लाया जा रहा है।

  • जन संपर्क न्यूज़

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist