Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • मां को मृत घोषित बताया तो पुत्र ने महिला डॉक्टर पर किया हमला, केस दर्ज

    सागर/रहली(आशु दुबे)। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक युवक ने महिला डॉक्टर से अभद्रता करते हुए हमला कर दिया। युवक अपने परिजनों के साथ मां को गम्भीर हालत में लेकर अस्पताल आया था जहां महिला डॉक्टर ने महिला को मृत घोषित कर दिया। पुलिस थाने में आरोपी पर शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज किया है।
    जानकारी के अनुसार गुरुवार सुबह 10.15 बजे डॉ. अनामिका विश्वास सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ड्यूटी पर थीं। इसी दौरान वार्ड 15 निवासी गगन बंसल के साथ उसके परिजन अपनी मां गीता बंसल उम्र 52 साल को गम्भीर हालत में लेकर शासकीय अस्पताल पहुंचे थे जहां डॉ. अनामिका ने परीक्षण कर मृत घोषित कर दिया तो मृतिका के पुत्र गगन ने गालियां देते हुए डॉक्टर पर हमला कर दिया। डॉ. अनामिका ने अस्पताल के अन्य डॉक्टर के साथ पुलिस थाने पहुंचकर मामला दर्ज कराया। पुलिस ने आरोपी पर शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज कर लिया है। वहीं महिला के मृत होने पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा पुलिस थाने में मेमो भेजा। जिस पर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच प्रारंभ की है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ महिला चिकित्सक सुश्री अनामिका विश्वास के साथ ड्यूटी के दौरान वार्ड 15 मोहार निवासी गगन बंसल पिता भगवान दास बंसल ने अभद्रता करते हुए मारपीट कर दी। महिला चिकित्सक की रिपोर्ट पर पुलिस द्वारा आरोपी गगन बंसल पिता भगवानदास बंसल के खिलाफ धारा 353, 332,186,294, 506 एवं चिकित्सक सुरक्षा अधिनियम की धारा 3/4 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है। महिला चिकित्सक के साथ आये रिपोर्ट कराने आये डां संदीप आसटी ने बताया कि गुरुवार को सुबह करीब 10 बजे वार्ड 15 मोहार निवासी गगन बंसल परिजनों के साथ अपनी 52 वर्षीय मां श्रीमती गीता बंसल को मृत अवस्था में ईलाज करने अपने परिजनों के साथ अस्पताल आया था। मरीज की नाड़ी नही चल रही थी, सांस बंद थी एवं बीपी रिकार्ड करने योग्य नहीं था। जांच के उपरांत श्रीमती गीता को मृत घोषित किया गया। जिसके बाद मृतिका के पुत्र गगन बंसल ने गुस्से में आकर शासकीय कार्य में बाधा डालते हुए मुझ से अभ्रद भाषा का प्रयोग कर गंदी गंदी गालियाँ देने लगा, मैनें उसे गाली देने से मना किया तो गगन ने मुझे गर्दन में पीछे तरफ एक मुक्का मार दिया, स्टाफ नर्सिंग आफिसर पूनम वायकर, वार्डवाय अभिषेक राजपूत अन्य स्टाफ साधना वाल्मीक, अमन तिवारी के द्वारा मेरा बचाव किया गया।

  • जन संपर्क न्यूज़

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist