Peptech Time

  • Download App from
    Follow us on
  • जब विवाह के बीच जोड़े से उतरवा लिए गए शादी के कपड़े, जानिए क्या है पूरा मामला…?

    कटनी/बड़वारा। जहाँ एक तरफ प्रदेश के मामा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीब भांजे-भांजियों का कन्यादान योजना के तहत विवाह करने का जुम्मा उठा रखा है, वही दूसरी तरफ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारी कन्यादान योजना और मामा के भांजे-भांजियों का मजाक बनाने में कोई कसर नही छोड़ रहे है। कही नकली सामग्री का वितरण किया रहा है, तो कही वर-वधु से शादी के कपड़े उतरवा लिए जा रहे हैं। ऐसा ही मामला कटनी जिले से सामने आया है, जहाँ मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत विवाह कार्यक्रम में एक हरिजन वर-वधु को अचानक अपात्र कर दूल्हा-दुल्हन को दिए गए कपड़े उतरवा लिए गए।

    दरअसल बड़वारा जनपद पंचायत के द्वारा बड़वारा एक्सीलेंस मैदान में कन्यादान योजना के तहत विवाह कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें करीब 96 वर वधुओं का विवाह संपन्न कराया गया। विवाह कार्यक्रम में कई गड़बड़ियां सामने आई। कार्यक्रम स्थल पर वर वधु के रिश्तेदारों के लिए ना तो बैठने के इंतजाम किए गए थे ना ही खाने पीने की उत्तम व्यवस्था। वर वधु के परिजन दूषित पानी पीने के लिए एवं चिलचिलाती धूप में खुले आसमान के नीचे बैठने के लिए मजबूर नजर आए। इतना ही नहीं वर वधु को कपड़े भी घटिया किस्म के वितरण किए गए, फटे हुए कुर्ते और साड़ी पहनकर जोड़ों ने विवाह संपन्न कराया गया।

    इसी बीच शर्मसार करने वाला मामला भी सामने आया, जिसमें एक हरिजन वर वधू को पहले योजना के लिए पात्र कर दिया गया और बाद में अचानक आपत्ति होने पर दिए गए कपड़े भी उतरवा लिए गए। वर-वधु दोनों पक्षों ने जब इस मामले को लेकर हंगामा खड़ा किया तब जाकर संबंधित अधिकारियों ने एक बार फिर पात्रता देते हुए दोनों का विवाह संपन्न कराया। कन्या के पिता कमला चौधरी के मुताबिक कन्यादान योजना में शामिल होने के लिए पहले मेरी पुत्री सुधा बाई चौधरी को पात्र कर दिया गया उसके बाद रस्म होने के चंद घंटे पहले आपात्र कर दूल्हा दुल्हन को दिए गए कपड़े वापस ले लिए गए जिससे हमारे सम्मान को खासी ठेस पहुंची है। वही इस पूरे मामले पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी केके पाण्डेय ने बताया कि ग्राम पंचायत कुआं के सरपंच द्वारा सुधा बाई चौधरी की पात्रता को लेकर आपत्ति लगाई गई थी बताया गया की आवेदिका पहले से शादीशुदा है इस वजह से मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का लाभ सुधा बाई चौधरी को ना दिया जाए आपत्ती के आधार पर आवेदिका की पात्रता रद्द की गई थी वधु के परिजनों से लिखित स्पष्टीकरण देने के बाद दोनों का विवाह संपन्न कराया गया है।

  • जन संपर्क न्यूज़

    मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री राजन ने इंदौर में मतगणना स्थल का किया निरीक्षण

    मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (मध्यप्रदेश) श्री अनुपम राजन ने आज इंदौर के नेहरू स्टेडियम में बनाए गए मतगणना स्थल का निरीक्षण…

    मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री राजन ने देवास में मतगणना स्थल का किया निरीक्षण

    मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (मध्य प्रदेश) श्री अनुपम राजन ने 23 मई को देवास में "केन्‍द्रीय विद्यालय बैंक नोट प्रेस" पहुँचकर…

    मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री राजन ने सीहोर में मतगणना स्थल और स्ट्रांग रूम का किया निरीक्षण

    मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (मध्य प्रदेश) श्री अनुपम राजन ने आज सीहोर के शासकीय महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज पहुँचकर लोकसभा निर्वाचन-2024 के…

    Stay Connected

  • Related Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Add New Playlist